छत्तीसगढ़ में ऑन डिमांड मिल जाती थीं विदेशी लड़कियां, देह व्यापार के इंटरनेशनल कनेक्शन का खुलासा

हाइलाइट्स

रायपुर पुलिस ने होटल हयात में छापा मारकर लड़कियों को गिरफ्तार किया
पकड़ी गई लड़कियों के इनपुट पर महिला दलाल गिरफ्तार
नेपाल की रहने वाली है आरोपी महिला दलाल, लंबे समय से थी सक्रिय

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में वेश्यावृत्ति के इंटरनेशनल कनेक्शन का खुलासा हुआ है. छत्तीसगढ़ के हाई प्रोफाइल होटल हयात में छापेमारी के बाद इंटरनेशनल कनेक्शन का पर्दाफाश हुआ है. पुलिस ने वेश्यावृत्ति में संलिप्त एक महिला दलाल हो गिरफ्तार किया है, जो मूलत: नेपाल की रहने वाली है. महिला ने पुलिस को बताया कि वो लंबे समय से वेश्यावृत्ति के प्रोफेशन में सक्रिय है. पकड़ी गई महिला देशभर में वेश्यावृत्ति के काम में लगे पुरुष दलालों को देशी-विदेशी लड़कियां सप्लाई करती है. लड़कियों की ऑन डिमांड सप्लाई की जाती है.

दरअसल बीते 24 जुलाई को राजधानी रायपुर स्थित होटल हयात में पुलिस ने छापामार कार्रवाई की थी. इस कार्रवाई में देह व्यापार में संलिप्त 11 महिलाओं सहित दलाल विप्लव चैरडिया एवं पंकज गोयल को गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने उनके कब्जे से 14 नग मोबाइल फोन एवं नगदी 8,000 रुपये बरामद किए थे. आरोपियों के खिलाफ धारा 3, 4, 5, 7 अनैतिक व्यापार निवारण अधिनियम 1956 (सिट अधिनियम पुननिर्मित) का अपराध पंजीबद्ध कर कार्रवाई शुरू की गई थी.

पूछताछ में खुलासा

रायपुर पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ करने पर आरोपियों द्वारा इस व्यवसाय में संलिप्त एक महिला दलाल के संबंध में जानकारी दी गई. आरोपियों ने बताया कि महिला दलाल रायपुर के एक होटल में ठहरी है. इस इनपुट पर पुलिस टीम द्वारा महिला दलाल को पकड़ा गया. महिला दलाल से पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह मुख्यतः नेपाल की निवासी है और वर्तमान में बसंत कुंज दिल्ली में निवासरत है. वह देह व्यापार के व्यवसाय में काफी दिनों से संलिप्त है तथा उसका रायपुर सहित अन्य राज्यों के कई पुरुष दलालों से संपर्क है तथा मांग के आधार पर वह महिलायें उपलब्ध कराती है. होटल हयात से पकड़ी गईं 2 लड़कियां इसी महिला दलाल द्वारा रायपुर भेजी गई थी. महिला दलाल को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 2 आईफोन एवं नगदी जब्त की गई है.

Tags: Chhattisgarh news, Crime News, Raipur news

Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.